समाजसेवी प्रदीप सारंग को जन्म दिन मुबारक

बाराबंकी (हरी प्रसाद वर्मा) कला, साहित्य, समाजसेवा, पर्यावरण, परिन्दा संरक्षण जैसे सामाजिक सरोकार के विभन्न कार्यक्रमों के गलियारों में लगभग एक दशक से अहम किरदार निभाने वाले अनुज *प्रदीप सारंग* को उनके 48वें जन्म दिन पर कोटि कोटि बधाई।

भाई प्रदीप सारंग आज अपनी लगन, निष्ठा और किसी कार्य को बाखूबी अंजाम देने के लिए जाने-पहचाने जाते हैं । आँखें-इण्डिया मुहिम ने उनके किरदार में चार चाँद लगा दिए हैं। परिन्दा संरक्षण अभियान , पर्यावरण संरक्षण मुहिम , पुराने गर्म कपड़ों का संग्रह एवं जरूरत मन्दों में वस्त्र वितरण जैसे कार्यक्रमों को लेकर समाजसेवा के क्षेत्र में आज एक अलग मुकाम हासिल किया है । शिक्षा-स्नातक की उपाधि से विभूषित श्री सारंग की हिन्दी भाषा विज्ञान में विशेष अभिरुचि है, जिसके चलते साहित्य एवं लेखन के क्षेत्र में भी उनकी अपनी अलग पहचान है।

आजकल श्री सारंग अपने जनपद सहित कई अन्य जनपदों में जाकर महाविद्यालयों और इन्टर कालेजो में मोटिवेशनल कक्षाओं के माध्यम से छात्रों के बीच समय-प्रबंधन, पढ़ाई की वैज्ञानिक पद्धति, अधिक अंक पाने के तरीके, मनुष्य की आदतें उसके लक्ष्य में बाधक, आदि विषयों पर वार्ता कर युवाओं और छात्रों को प्रेरित करने का काम कर रहे है।वही जीरो लागत खेती को प्रोत्साहित करने को लेकर किसानों के बीच काफी सक्रिय है, मै आप मित्रों कीओर से ऊर्जावान,उत्साही , समाजसेवी साथी भाई प्रदीप सारंग जी को उनके 48वें जन्मदिन पर मुबारक देते हुए आशा करता हूँ कि श्री सारंग जी आप लोगों के आशीर्वाद से सामाजिक सरोकार के कार्यो को बखूबी अंजाम देने में सार्थक सिद्ध होंगे ऐसा मेरा विश्वास है।

लुटेरे चढ़े पुलिस के हत्थे

लखनऊ। गाजीपुर पुलिस ने शातिर लुटेरों को गिर तार किया है। आरोपियों के कब्जे से स्कूटी बरामद हुई है। पुलिस का दावा है कि आरोपी शातिर किस्म के हैं। इन्होंने ट्रांसगोमती इलाके में लूट की कई वारदातों को अंजाम दिया है। थाना प्रभारी गाजीपुर ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर आरोपियों की गिर तारी के लिए सर्वोदय नगर बंधा के पास पहले से ही घेराबन्दी कर ली थी। कुछ ही समय बाद मौके पर स्कूटी सवार दो युवक पहुंच गए। बंधे के पास भारी पुलिस बल देखकर आरोपी भागने लगे। इस पर पुलिस ने आरोपियों को दौड़ाकर दबोच लिया। पूछताछ में आरोपियों ने अपना नाम इन्दिरानगर प्रताप नगर निवासी सुजीत गौतम और मो० शाहरूख बताया है। आरोपियों के कब्जे से स्कूटी बरामद हुई है। पुलिस का दावा है कि आरोपी शातिर किस्म के लुटेरे हैं। आरोपियों ने ट्रांसगोमती इलाके में लूट की कई वारदातों को अंजाम दिया है।

नहीं रहे आज़ाद हिन्द फौज के कर्नल निज़ामुद्दीन,आजादी के लिए बर्मा में दिया था सुभाष चंद्र बोस का साथ

लखनऊ:PBCN: आजमगढ़ के मुबारकपुर में रहने वाले कर्नल निजामुद्दीन उर्फ सैफुद्दीन का लम्बे समय तक बीमार रहने के बाद आज सुबह चार बजे निधन हो गया.
आज़ाद हिंद फौज के कर्नल और नेता सुभाष चंद्र बोस के बेहद करीबी 117 साल के कर्नल निजामुद्दीन सुभाष चंद्र बोस के ड्राइवर थे और नेता जी के साथ बर्मा में 1943 से 1945 तक साथ रहे.

निज़ामुद्दीन के छोटे बेटे अकरम ने कहा कि सुबह 4 बजे उनका निधन हुआ. दोपहर करीब 2 बजे उन्‍हें सुपुर्दे-ए-खाक किया जाएगा.

निज़ामुद्दीन के बेटे अकरम ने कहा कि उन्होंने अपने पिता को स्वतंत्रता संग्राम सेनानी की मान्यता दिलवाने का काफी प्रयास किया, लेकिन न तो राज्य सरकार और न ही केंद्र सरकार ने कोई सुनवाई की. डीएम ने उन्हें आश्वासन दिया था कि वह सरकार से कर्नल की पेंशन के लिए बात करेंगे.