आरटीओ के शाही बाबू और ख्वाजा ट्रांसपोर्ट कम्पनी की संपत्ति की जांच की मांग

क्षुब्ध विक्रम चालकों ने आरटीओ कार्यालय के राजेश शाही के ख़िलाफ़ खोला मोर्चा

ख़्वाजा ट्रांसपोर्ट से मिली भगत का लगाया आरोप

पल्हरी चौराहे से आरटीओ दफ़्तर तक हुआ प्रदर्शन

30 अक्टूबर को ज़िलाधिकारी कार्यलय पर प्रदर्शन के लिए दिया ज्ञापन

बाराबंकी । आरटीओ कार्यालय में कार्यरत भ्रष्ट अधिकारियों व कर्मचारियों के काले कारनामों के विरुद्ध पल्हरी चौराहा, बाराबंकी से जैदपुर तक विक्रम चालको ने धरना प्रदर्शन किया, आरोप लगाते हुए चालकों ने बताया कि आरटीओ कार्यालय में कार्यरत राजेश सिंह शाही बाबू की मिली भगत से हम लोगो को उक्त मार्ग पर विक्रम चलाने नही दिया जा रहा है जिससे हम लोगो का परिवार भूखमरी की कगार पर पहुँच गया है।

प्रदर्शन को सम्बोधित करते हुये अकबर शाह ने कहा कि उक्त विभाग में कार्यरत भ्रष्ट अधिकारियों की मिली भगत से ख्वाजा ट्रांसपोर्ट की कई दर्जन बड़ी गाड़िया जो जमुरिया नाला से गोण्डा, बहराइच, फैजाबाद, लखनऊ, हैदरगढ़, जैदपुर, सिद्धौर, देवीगंज आदि मार्गो पर बिना परमिट के अवैध ढंग से संचालित की जा रही है। अपना निजी स्वार्थ के लिये उक्त विक्रम चालको को आये दिन आरटीओ अधिकारी संबंधित थानो की पुलिस से परेशान कराते है। शाह ने अन्त में कहा कि उक्त ट्रांसपोर्ट मालिक व कार्यालय में कार्यरत शाही बाबू की आय से अधिक सम्पत्ति की जांच करायी जाये तथा उक्त मार्ग पर विक्रम चालको को नही चलने दिया तो हम लोग 30 अक्टूबर को विक्रम चालकों के उत्पीड़न व ककरहिया बनवा में लगी प्रदूषित कचरा से बिजली उत्पादन फैक्ट्री को बन्द करवाने हेतु को लेकर जिलाधिकारी कार्यालय पर जोरदार धरना प्रदर्शन करेगें।

इस धरना प्रदर्शन में सैदू, वकार, जावेद, जकी, रंजीत, प्रदीप, अनिल, संजय, इब्राहिम, मुश्ताक, लक्ष्मी नारायन, मोहन, जावेद, कमलेश, नरेश, मो. वैस, गुल्ले, गुड्डू, राहुल, मुकेश आदि सैकड़ो लोग उपस्थिति रहें।

Court Order regarding Shrawan Kumar Sahu murder case

CASE: Murder of Ayush Sahu on 16.10.2013.
Accused as per FIR, Akeel Ansari.
Father Shrawan Kumar Sahu who was the eye witness of the case and was fighting for the justice for his son with a demand of security for him and his family which was not provided. On not giving up on the case of his son’s murder, Shrawan Kumar Sahu was shot dead by the people of the accused party. He succumbed to his injuries on 1.2.2017.
It was because of the background of Ayush Sahu and Shrawan Kumar Sahu’s murder, four policemen including Mr. Shishu Pal Singh, the Reserve Inspector, were suspended.
Smt. Nirmala Sahu had filed a writ petition seeking mandamus for transfer of investigation of the case to the C.B.I. It also prays that she and her family are given adequate protection, which is being given round the clock to them, as per the court’s orders of 20.03.2017.
Allegations have been made against the police that instead of providing protection to the deceased and his family members had been hobnobbing with the criminals accused in the incident.
“The issue of transferring the case to the C.B.I., does not appear to be in dispute any longer inasmuch as the manner in which the deceased lost his life and the manner in which he was not provided adequate security inspite of request in this regard brings their case within the rare exceptional cases in order to instill confidence in the mind of public at large that the case deserves to be transferred to the C.B.I. for a free, fair and honest investigation of the commission of the crime and further to ensure an impartial investigation of the case”, ordered the Court on 20.03.2017
The Court continues,”Consequently, for all the reasons, we direct the Director, C.B.I. Lucknow herein to forthwith proceed to issue necessary orders for taking over the investigation of the case and further the State Government and it’s agencies including concerned Police Officials shall be obliged to hand over all such documents that may be required for the purpose of continuing the investigation by the C.B.I.”
The concerned Reserve Inspector , Mr. Shishu Pal Singh, who was suspended has been reinstated on the same post.
The matter shall come up on 4.4.2017.

उत्तर रेलवे द्वारा वाराणसी से आनंद विहार टर्मिनल तक होली स्पेशल ट्रेन का संचालन

होली पर दिल्ली से वाराणसी तक अतिरिक्त भीड़ का भार कम करने के लिए उत्तर रेलवे वाराणसी से आनंद विहार टर्मिनल तक होली स्पेशल रेल का संचालन करेगी| मुख्य जनसंपर्क अधिकारी द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार 04207 वाराणसी से आनंद विहार टर्मिनल होली स्पेशल ट्रेन दिनांक 9 और 10 मार्च को 11:20 पर वाराणसी से छुटेगी और अगले दिन दोपहर 2:20 पर आनंद विहार टर्मिनल पहुंचेगी वापसी में 04208 आनंद विहार टर्मिनल- वाराणसी स्पेशल ट्रेन 10 मार्च और 11 मार्च को सुबह 7:30 बजे आनंद विहार टर्मिनल से रवाना होकर अगले दिन 11:00 बजे वाराणसी पहुंचेगी इस ट्रेन में 8 स्लीपर क्लास 2 द्वितीय श्रेणी सह सामान एवं ब्रेक वन कोचों के अलावा 8 सामान्य श्रेणी के डिब्बे लगेंगे| यह ट्रेन दोनों दिशाओं में सुल्तानपुर लखनऊ बरेली और मुरादाबाद स्टेशन पर रुकेगी।
विज्ञप्ति के अनुसार 04420 व 04419 दिल्ली सराय रोहिल्ला- अहमदाबाद होली स्पेशल ट्रेन भी चलाई जाएगी जो की सराय रोहिल्ला से 3:50 पर रवाना होगी तथा अगले दिन 7:00 बजे सुबह अहमदाबाद पहुंचेगी। वापसी में यह गाड़ी 4:10 पर अहमदाबाद से रवाना होकर अगले दिन प्रातः 650 पर दिल्ली सराय रोहिल्ला पहुंचेगी इसमें 13 शयनयान व् सामान्य श्रेणी के डिब्बे होंगे। दोनों दिशाओं में ही ये गाड़ी गुडगांव, रेवाड़ी,, जयपुर, अजमेर, आबू रोड और पालनपुर स्टेशनों पर रुकेगी।

रंजिशन हत्या करने वालों को मिली उम्रकैद

स रहकर काफी दिनो से सब्जी की दुकान लगाता है | पुलिस ने पीड़िता की तहरीर पर आरोपी के खिलाफ पास्को ऐक्ट के तहत रेप का मुकदमा दर्ज कर उसे जेल भेज दिया।
≠============================

रंजिशन हत्या करने वालों को मिली उम्रकैद
लखनऊ। डीजी अभियोजन उप्र के निर्देश पर चलाये जा रहे सजा कराओ
अभियान के तहत जनपद कानपुर नगर के थाना बाबूपुरवा के एक हत्या के
मामले में मुल्जिमान फिरोज अहमद, मतीन अहमद, जहीरूद्दीन अहमद निवासी
130\295 अजीतगंज थाना बाबूपुरवा को उम्रकैद व एक लाख रुपये के अर्थ
दण्ड से दण्डित कराने में सफलता मिली। इस मामले में इन मुल्जिमान घटना
के 5 अप्रैल 2006 को सायंकाल 4 बजे वादी मुकदमा अकरम के भाई आजम
को घर से बुलाकर ले गये। वादी मुकदमा का भाई घर नहीं लौटा तो
दूसरे दिन मोह मद आजम की लाश अजीतगंज कपूर के हाते के पास गली
में मिली। पीड़ित की सूचना पर थाने में केस पंजीकृत हुआ जिसकी
विवेचना एसएसआई राम लखन यादव ने की और आरोप पत्र मय महत्वपूर्ण
साक्ष्य के न्यायालय भेजा गया। पीड़ित सहित सभी गवाहों ने घटना का समर्थन
किया। अभियोजक अरविन्द कुमार तिवारी द्वारा प्रभावी पैरवी कर सजा
कराने में सफलता प्राप्त की गई। इसी प्रकार जनपद फिरोजाबाद के थाना
नारकी के एक हत्या के मामले में अभियुक्त मोनू व रामवीर को
उम्रकैद व प्रत्येक को दस-ं दस हजार रुपये के अर्थ दण्ड से दण्डित
कराने में अभियोजन को सफलता मिली। इस मामले में मुल्जिमान मोनू और
रामवीर से पीड़ित मुकदमा के बीच जमीन का विवाद चल रहा था। इसी बात
को लेकर मुल्जिमान ने वादी के पिता की गोली मार कर हत्या कर दी
गई। पीड़ित की सूचना पर मुकदमा पंजीकृत हुआ। जिसकी विवेचना की
गई और विवेचना के बाद आरोप पत्र मय महत्वपूर्ण साक्ष्य के न्यायालय पेश
किया गया। सरकारी वकील श्रीनारायण सक्सेना,एडीजीसी द्वारा प्रभावी
पैरवी कर सजा कराने में सफलता हासिल हुई। इसी प्रकार जनपद
प्रतापगढ़ के थाना रानीगंज के हत्या के मामले में मुल्जिमान बरकत अली
उर्फ मियॉ, बबलू उर्फ गुलसार और ओम प्रकाश, मोह मद इरफान उर्फ
सतरंगी को उम्रकैद की सजा मिली। इसी तरत जनपद चन्दौली के थाना
कोतवाली चन्दौली के एक हत्या के मामले में अभियुक्त नन्द लाल मिश्रा को
उम्रकैद की सजा कराने में सफलता मिली

डॉ. अय्यूब पर रेप का आरोप लगाने वाली महिला की ट्रॉमा सेंटर में थमी सांसें

भविष्य सुधारने का झांसा देकर किया युवती का शोषण : आखिर में मिली मौत

अब मौत के बाद कैसे मिलेगा युवती को न्याय
पीस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली युवती का इलाज के दौरान मौत|
जांच और कार्यवाही की होगी अग्नि परीक्षा


लखनऊ।
पीस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अय्यूब पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली युवती इलाज के दौरान ट्रामा सेंटर में मौत हो गई। युवती के भाई ने डॉ. अय्यूब के खिलाफ आरोप लगाते हुए लखनऊ पुलिस को तहरीर देने की बात कही थी, लेकिन देर शाम युवती की इलाज के दौरान ट्रामा सेंटर में दम तोड़ दिया। पर सवाल यह उठता है कि युवती को अब कैसे न्याय मिलेगा, उसे न्याय कौन दिलायेगा। जबकि लखनऊ पुलिस का कहना है कि मामले की जांच किये बीना कुछ कहना उचित न होगा।
युवती के परिवार वालों का आरोप है कि उनकी बेटी को डॉक्टर बनाने का सपना दिखाकर उसका चार वर्षों तक यौन शोषण किया। इस दौरान उसे गलत दवाएं भी दी गईं लेकिन समाज में लोक लाज के डर से बेटी ने किसी को नहीं बताया। आरोप है कि जब बेटी की हालत बिगड़ गई तो घरवालों ने परीक्षण करवाया। इसमें बेटी की किडनी में पथरी होने की जानकारी मिली। तब अय्यूब ने बेटी को दवाएं दीं, आरोप है कि गलत दवाएं देने से बेटी को पिछले 8 माह से रक्तश्राव हो रहा है। इसकी जब घरवालों ने इलाज की बात कही तो डॉक्टर खुद ही इलाज करता रहा। जब बेटी की हालत बेहद खराब हो गई तो घरवाले उसे लेकर राजधानी के ट्रॉमा सेंटर पहुंचे जहां इलाज के दौरान मौत हो गई। पीडि़ता के घरवालों ने डॉ. अय्यूब के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है।
जानकारी के मुताबिक, संतकबीरनगर के एक गांव के रहने वाले रामू और उनकी मां सुनीता ट्रॉमा सेंटर में अपनी 22 वर्षीय बेटी रीना (सभी नाम काल्पनिक) का इलाज करवा रहे हैं। रामू का आरोप है कि एक बार जनसभा के दौरान उनका परिवार भी पहुंचा था। परिवार में उनकी बेटी भी साथ में गई थी। इस दौरान घरवाले जब अय्यूब से मिलने गए तो उन्होंने बेटी के बारे में पूछा। यह बात साल 2012 की है तब उनकी बेटी हाईस्कूल में थी। परिजनों ने बताया कि तब अय्यूब ने उनसे कहा कि बेटी पढऩे में तेज है उसे डॉक्टरी की पढ़ाई करवाओं तो भविष्य बन सकता है। उनकी बात मानकर घरवालों ने बेटी को अय्यूब के पास पढ़ेने के लिए भेज दिया। इसके बाद अय्यूब ने बेटी का यौन शोषण शुरू कर दिया। बेटी ने घरवालों को यह बात अपने भविष्य और समाज में बदनामी के डर से नहीं बताई थी। आरोप है कि इस दौरान हानिकारक दवाएं भी उनकी बेटी को खिलाईं गईं। आरोप है कि गलत दवाएं खाने से उनकी बेटी की किडऩी सुकउ़ गई। उसे पिछले 8 माह से रक्तश्राव हो रहा है, हालत अधिक बिगडऩे पर उसे परिवार वाले लखनऊ के ट्रॉमा सेंटर पहुंचे। यहां परिवारवालों ने मीडिया के सामने पूरा मामला उजागर कर दिया। इस मामले में जब डॉ. अय्यूब से बात की गई तो उन्होंने बताया की यह सारी साजिश समाजवादी पार्टी की है। उन्होंने बताया कि 2012 के विधान सभा चुनाव में भी ऐसी हवा उड़ी थी तब सुमित्रा नाम की लड़की ने ऐसे ही गंभीर आरोप लगाए थे। यह मामला कोर्ट में जाने के बाद जांच हुई तो फर्जी पाया गया इसके सारे दस्तावेज भी उनके पास हैं। उन्होंने बताया इस बार वह खलीलाबाद विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे हैं। यहां 27 फरवरी को पांचवे चरण का मतदान होना है इससे पहले फिर सपा ने साजिश करके यह काम किया है। उन्होंने कहा कि यह सारे आरोप निराधार एवं फर्जी हैं जांच करवा ली जाये सब साफ हो जायेगा। वहीँ दूसरी और शनिवार को डॉक्टरों के पैनल ने वीडियोग्राफी के साथ युवती का पोस्टमार्टम किया ।

Dwivedi सुजीत

ट्रेन संचालन परिवर्तन सूचना

लखनऊ

24 फरवरी 2017। सर्वसाधारण को सूचित किया जाता है कि लखनऊ मण्डल के गोण्डा-आनन्दनगर खण्ड में दिनांक 26 फरवरी 2017 (रविवार) एवं दिनांक 05 मार्च 2017 (रविवार) को सब-वे निर्माण हेतु 06.00 घंटे का ( प्रातः 09.10 बजे से-अपराह्न 03.10 बजे तक) मेगा ब्लाक दिये जाने के कारण निम्नलिखित गाड़िया निरस्त एवं शार्ट टर्मिनेट की जायेेगी।
1. निरस्तीकरण दिनांक 26.02.17 एवं 05.03.17 को

गाड़ी सं0 75003/75004 गोरखपुर-बढ़नी-गोरखपुर डेमू निरस्त रहेगी।

2. शार्ट टर्मिनेट दिनांक 26.02.17 एवं 05.03.17 को

दिनांक 26.02.17 एवं 05.03.17 को गोरखपुर से प्रस्थान करने वाली गाड़ी सं0 55077 गोरखपुर-बढ़नी सवारी गाड़ी आनन्दनगर स्टेशन पर टर्मिनेट होगी एवं 55078 बढ़नी-गोरखपुर सवारी गाड़ी आनन्दनगर स्टेशन से ओरिजिनेट होगी।

गर्मी की छुट्टियों के मद्देनज़र उत्तर रेलवे चलाएगा समर स्पेशल ट्रेन

लखनऊ

उत्तर रेलवे मुख्यालय द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार गर्मी की छुट्टियों में यात्रियों की भारी भीड़ के चलते विभिन्न शहरों के बीच उत्तर रेलवे ग्रीष्मकालीन विशेष रेल गाड़ियों का संचालन करेगी| जिनका विवरण निम्न प्रकार है ।

पूर्वोत्तर रेलवे के मंडल रेल प्रबंधक द्धारा गोण्डा-बढ़नी-गोरखपुर खंड का निरीक्षण

लखनऊ 22 फरवरी 2017। पूर्वोत्तर रेलवे लखनऊ मण्डल के मण्डल रेल प्रबन्धक श्री आलोक सिंह ने मण्डल के शाखाधिकारियों के साथ पूर्वोत्तर रेलवे लखनऊ मण्डल के गोण्डा-बढ़नी-गोरखपुर खण्ड पर निरीक्षण किया।
अपने निरीक्षण के दौरान उन्होने गोण्डा जं0 के सरकुलेटिंग एरिया, स्टेशन अधीक्षक कार्यालय, यात्री प्रतीक्षालय, फुट ओवर ब्रिज व प्लेटफार्मो की सफाई व्यवस्था तथा निर्माणाधीन ऐस्केलेटर , लिफ्ट व आर.आर.आई. बिल्डिंग आदि का विस्तृत निरीक्षण किया । इसके उपरान्त उन्होंने बलरामपुर स्टेशन के स्टेशन प्रबन्धक कार्यालय, सरकुलेटिंग एरिया, आवासीय कालोनी एवं आर.पी.एफ. बैरक का , तुलसीपुर स्टेशन के स्टेशन प्रबन्धक कार्यालय, सरकुलेटिंग एरिया, यात्री प्रतीक्षालय, यात्री सुविधा सम्बन्धी कार्यों का, तुलसीपुर-गैसड़ी के मध्य मानवित समपार संख्या-113 , बढ़नी , शोहरतगढ़ एवं नौगढ़ रेलवे स्टेशनों के स्टेशन अधीक्षक कार्यालय, सरकुलेटिंग एरिया, यात्री प्रतीक्षालय , प्लेटफार्म तथा यात्री सुविधाओ का निरीक्षण किया ।
इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा0 आर.सी.लोहानी, वरिष्ठ मण्डल वाणिज्य प्रबंधक नीलिमा सिंह, वरिष्ठ मण्डल विद्युत इंजीनियर/टीआरडी जितेन्द्र यादव, वरिष्ठ मण्डल विद्युत इंजीनियर राघवेन्द्र कुमार, वरिष्ठ मण्डल परिचालन प्रबंधक स्वदेश कुमार सिंह, वरिष्ठ मण्डल सिगनल एवं दूरसंचार इंजीनियर दीपू श्याम, वरिष्ठ मण्डल सिगनल एवं दूरसंचार इंजीनियर (कार्य) अजय वर्मा, वरिष्ठ मण्डल इंजीनियर/प्रथम पी.के. सिंह, वरिष्ठ मण्डल इंजीनियर/तृतीय पावस यादव, वरिष्ठ मण्डल यांत्रिक इंजीनियर(कैरेज/वैगन) राजेश अवस्थी , उप मुख्य इंजीनियर /निर्माण एम.के.राजपाल , मण्डल इंजीनियर/सामान्य राजेन्द्र प्रसाद, जनसम्पर्क अधिकारी आलोक कुमार श्रीवास्तव एवं अन्य अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे।

Fresh avalanches in J-K, toll over 20

Srinagar:Several avalanches and landslides hit the Jammu-Srinagar National Highway today even as the death toll in the series of snow slides that have hit Jammu and Kashmir crossed 20 with the recovery of the bodies of four soldiers.

The fresh avalanche in Banihal disrupted the work of the Border Roads Organisation (BRO) that is busy clearing blockades due to snowfall in a bid to restore traffic on the highway which is closed for the third consecutive day today.

In Srinagar, police officials said that bodies of four missing soldiers were recovered from avalanche-hit Gurez sector, taking the death toll in the incident to 14

“Four bodies of soldiers were recovered from the avalanche site by rescue teams in Gurez today. The death toll of army personnel has now risen to 14,” a police official said.

Two avalanches hit army personnel in Gurez sector on Wednesday evening trapping several soldiers under the debris.

While seven personnel were rescued alive by the teams, bodies of 10 soldiers were recovered yesterday.

Meanwhile, a 60-year-old man died after he came under an avalanche in Uri sector of Baramulla district.

Fateh Mohammad Mughal ventured out of his home last evening when he came under an avalanche.

Local residents and police pulled Mughal out of the avalanche debris and removed him to a nearby hospital where doctors declared him dead on arrival.

More than 20 persons, including 15 army personnel, have died in avalanches since Wednesday caused by fresh snowfall across Jammu and Kashmir over the past four days.

Authorities have issued a high danger avalanche warning in hilly parts of snow-bound Kashmir Valley in view of fresh snowfall.

Several avalanches have also hit the highway at Shatani Nallah area in Banihal belt of Ramban district today, police officials said.

A number of landslides were also triggered by heavy rains in Banihal-Ramban sector, they said adding the clearance of the snow to make the highway trafficable is being disrupted due to avalanches and landslides in Banihal-Ramban stretch.

Efforts are on by BRO with their men and machines to clear the highway of landslides, avalanches and heavy snowfall to make it trafficable, they said.